Papita khane ke fayde (पपीता खाने के फायदे)

पपीता एक ऐसा फल है जो देखने में और फलों से बड़ा होता है l तथा पपीता अपने रंग के कारण बड़ा ही आकर्षक लगता है l पपीता की खुशबू भी बहुत अच्छी होती और papita khane ke fayde भी बहुत है l

Table of Contents

papaya, पपीता

इसमें बहुत सारे पोषक तत्व तथा औषधीय गुण भी पाए जाते हैं l पपीते का सेवन करने से पेट साफ तथा लीवर मजबूत हो जाता है l इसके साथ साथ पपीता के अंदर अन्य फलों की मात्रा फाइबर अधिक पाया जाता है l

तथा पोषक तत्वों से भरपूर पपीता एक ऐसा फल है l जो अपने रंग और स्वाद की वजह से बच्चे और बूढ़े सबको पसंद आता है l पपीता एक ऐसा फल है जिसका हर हिस्सा किसी न किसी उपयोग के रूप में आता है l

पपीते का बीज पपीते का छिलका पपीते का गूदा पपीते की पत्ती यह कई तरह की बीमारियों में भी काम आता है लो papita khane ke fayde पेट तथा त्वचा और स्वास्थ्य के लिए भी अच्छा माना गया है l तथा या इसको खाने में भी आसानी रहती है l

पपीते का पौधा

पपीते का पौधा कई तरह का होता है l तथा पपीते पेड़ बहुत लंबा तो कोई बहुत छोटा होता है l विभिन्न प्रकार के पेड़ों के साथ-साथ भिन्न भिन्न प्रकार की पपीता की प्रजातियां भी होती हैं l तथा अलग पेड़ पर अलग-अलग प्रकार का पपीता फलता है l

पपीते के पेड़ के लिए पानी की आवश्यकता नहीं होती है l तथा पपीते के पेड़ की आयु लगभग 2 से 3 साल तक ही रहती है l तथा इसकी पत्तियां छतरी जैसी तथा देखने में देखने में चपटी होती है l पपीते के फलों के साथ-साथ इसकी पत्तियां भी काफी फायदेमंद है l

तथा पपीते में कई तरह के औषधि गुण पाए जाते हैं l papita khane ke fayde की वजह से पपीते का इस्तेमाल अक्सर घर में बीमार पड़ने पर पपीते का सेवन करने का मशवरा दिया जाता है l तथा ऐसे भी पपीता बहुत सी बीमारियों में शारीरिक परेशानियों के लिए पपीते का इस्तेमाल किया जाता है l

पपीता में एंटीऑक्सीडेंट गुण पाया जाता है l तथा इसमें एंटी इन्फ्लेमेटरी गुड भी पाया जाता है l जिसके कारण पपीते का सेवन करने से एलर्जी की संभावना नहीं रहती है l इसके साथ ही दाद खाज में पपीते के दूध का सेवन इस्तेमाल किया जाता है l पपीते का सेवन करने से पाचन शक्ति दुरुस्त होती है l

इसके साथ साथ पपीते का सेवन डेंगू के मरीजों को प्लेटलेट्स बढ़ाने के लिए इसका सेवन करवाया जाता है l तथा मियादी बुखार को जड़ से खत्म करने के लिए भी पपीते का सेवन लंबे समय तक किया जाता है l पपीता एक ऐसा फल है l जो वि स्क्रीन में होने वाली एलर्जी से बचाए श्व में लगभग हर जगह पाया जाता है l

Papita khane ke fayde हमारी सेहत के लिए कितना फायदेमंद है l(Benefits of papaya)

(1) स्किन को चमकदार बनाने में फायदेमंद l

(2) , सूजन कम करने में मददगार

(3) स्क्रीन होने वाली एलर्जी से बचाए

(4) भरपूर एंटीऑक्सीडेंट

(5) पाचन शक्ति को करें मजबूर

(6) दाद खाज खुजली में रामबाण

(7) प्लेटलेट्स की कमी को पूरा करने में सबसे अच्छा

(8) ज्वार मियादी बुखार टाइफाइड मैं सबसे रामबाण इलाज

(9) आंखों के लिए पपीता फायदेमंद

(10) यूरिन इन्फेक्शन से बचाए पपीता

1.स्किन को चमकदार बनाने के लिए. papita khane ke fayde (पपीता खाने के फायदे)


पपीता में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट गुण अत्यधिक मुक्त कणों को बेसर करने के लिए फायदेमंद होते हैं l जिसके कारण त्वचा में झुर्रियां सिंगिंग तथा दाग धब्बे होते हैं l
इसके लिए पपीता बहुत ही फायदेमंद है l पपीता त्वचा को युवा और हेल्दी बनाता है l तथा पपीता में लाइकोपीन और विटामिन सी पाया जाता है l पपीता बढ़ती उम्र के असर को कम करता है l तथा (skin) स्किन को चमकदार बनाता चमकदार बनाता है l

2. सूजन कम करने में मददगार-


एक शोध में पाया गया है कि पपीते के जूस में एंटी एलीमेंट्री प्रभाव होता है l जिसके कारण पपीते का सेवन करने से गंभीर से गंभीर सूजन को भी कम किया जा सकता है l
तथा इसके साथ ही गंभीर सूजन आगे चलकर कैंसर मधुमेह और एथेरोसिलेरोसिस की बीमारी जैसे विभिन्न रोग का कारण बनती है ऐसे में पपीते का सेवन सूजन खत्म करने में बहुत ही फायदेमंद है l

3. Infaction मे papita khane ke fayde (पपीता खाने के फायदे)


पपीता के सेवन से इंफेक्शन से बचा जा सकता है l तथा आंतों के कीड़ों को मारने में भी पपीता फायदेमंद है l पपीता कई तरह के फंगल इंफेक्शन से लड़ने में मदद करता है l

जिसके कारण शरीर में इंफेक्शन नहीं होता है l इंफेक्शन कई संक्रमण और जटिलताओं का कारण बनता है l इसलिए गर्मियों में पपीते का सेवन शरीर को ठंडा रखता है l तथा इंफेक्शन के खतरे से बचाता है l

4) भरपूर एंटीऑक्सीडेंट l


पपीते में विटामिन सी, कैलोरी तथा कई तरह और भी कई सारे पोषक तत्व पाए जाते हैं l जो एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं l तथा पपीता में करॉटिनाइड एक ऐसा एंटीऑक्सीडेंट है l जो मुक्त कणों को बेसर करता है l

पपीते में करॉटिनाइड का सबसे अच्छा स्रोत पाया जाता है l साथ पपीता एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होता है l तथा फंगल इन्फेक्शन हमारी रक्षा करता है l यही कारण है l भरपूर एंटीऑक्सीडेंट के लिए पपीते का सेवन अवश्य करें l

5)पाचन शक्ति मजबूत होती है l

पपीते का सेवन अधिकतर लोग बीमार होने पर या फिर पेट खराब होने पर खास तौर पर किया जाता है l तथा पपीता लीवर के लिए बहुत ही फायदेमंद है l तथा पपीता पाचन शक्ति को मजबूत करने के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है l

एक रिसर्च के अनुसार पपीते में हाईमोपैपेन तथा पैपेन ( papain) जैसे कंपाउंड होते हैं l जो प्रोटीन को तेजी से पचाने में मदद करते हैं l तथा पाचन क्रिया में हो रहे विकारों को दूर करने में मदद करते हैं l मगर पपीता कितना गुणकारी है l

यह उसको खाने के बाद ही पता चलता है l पपीता में कई ऐसे पोषक तत्व है l जो लीवर को मजबूत करते हैं l तथा पेट साफ करते हैं l शुरू में पपीता खाने से तो पेट खराब होता है लेकिन धीरे-धीरे पपीता लीवर को खूब मजबूत बना देता है l

तथा पपीता अगर किसी को पाचन शक्ति कमजोर है l तथा पेट साफ नहीं होता तो उसको चाहिए कि रोजाना अपनी डाइट में पपीते का सेवन जरूर करें इससे पेट बिल्कुल साफ हो जाएगा तथा पाचन शक्ति मजबूत हो जाएगी l

(6दाद खाज खुजली में रामबाण


पपीते में एंटीफंगल गुण पाए जाते हैं तथा दाद एक ऐसी त्वचा संबंधी बीमारी है l जो फंगल इंफेक्शन के कारण होता है l यह फंगल इन्फेक्शन एक जगह से त्वचा तथा पूरे शरीर में की त्वचा में फैल जाते हैं l

तथा यह देखने में चित्तीदार चित्तीदार तथा उसमें खुजली भी होती है l इसके लिए पपीता बहुत ही फायदेमंद साबित हो सकता है l अगर किसी को दाद खाज जैसी समस्या हो तो उसको चाहिए कि जिस जगह पर जगह पर दाद के चकत्ते हो जगते हैं l

उस जगह पर पपीते का दूध लगा दिया जाए ऐसा रोज किया जाए इसके साथ पपीते के फल का इस्तेमाल करें रिंग वार्म सहित उसके चकत्ते और दाग को भी खत्म कर देगा l

7.platelets) प्लेटलेट्स की संख्या बढ़ाने में l


पपीता तथा पपीता की पत्तियों का सेवन करने से प्लेटलेट्स की संख्या बहुत तेजी से बढ़ता है l एक शोध के मुताबिक पपीते के तथा पपीते के पत्ते के रस और अन्य भागों में कारापाइन, क्वीनिक एसिड और इन क्लीटोरिन जैसे घटक पाए जाते हैं l

यह सभी घटक प्लेटलेट्स को बनाने की क्षमता को बढ़ाते हैं l अगर किसी को डेंगू के कारण या बुखार के कारण प्लेटलेट्स की संख्या घट गई हो तो उसको पपीते की पत्ती के अर्क में बकरी का कच्चा दूध मिलाकर खाली पेट 15 दिनों तक सेवन कराया जाए इससे प्लेटलेट्स बहुत तेजी से बढ़ता है l

8) ज्वर तथा मियादी बुखार के लिए पपीते का सेवन l


बुखार के लिए बहुत ही फायदेमंद माना गया है l अगर किसी को लंबे अरसे तक बुखार हो तथा बुखार नहीं छोड़ता हो ऐसे में पपीता बहुत ही गुणकारी साबित होता है l

पपीते का सेवन बुखार का जड़ से खात्मा कर देता है l तथा बुखार के कारण प्लेटलेट्स की संख्या घट जाने के कारण बुखार में प्लेटलेट्स को रिकवर भी कर देता है l

बुखार जड़ से खत्म करने के लिए कच्चे पपीते का सेवन करें l तथा पके पपीते का भी सेवन जरूर करें l पके पपीते की भांति कच्चा पपीता बुखार में ज्यादा उपयोगी होता है l

9) आंखों के लिए पपीता फायदेमंद l

-आजकल बढ़ते प्रदूषण के दौर में आंख की समस्या हर किसी को हो रही है l तथा किसी की आंखो मैं खुजली होना तथा किसी को कम दिखाई देता है l

ऐसी हर समस्या हर घर में देखी जा रही है l सही खानपान ना होने के कारण तथा बराबर मात्रा में विटामिन न मिलने के कारण ऐसी का सामना करना पड़ रहा है l

ऐसे में आंखों के लिए पपीता बहुत ही फायदेमंद है l पपीते में विटामिन ए , विटामिन सी पाया जाता है l जो आंखों के लिए बहुत ही फायदेमंद है l

10)पपीता (Urine infection ) यूरीन इनफेक्शन से बचाता है

पपीते का नियमित सेवन करने से यूरिन इन्फेक्शन से बचा जा सकता है l क्योंकि पपीते का सेवन पेट को साफ करता है l तथा पेट में जमा तमाम गंदगी को नष्ट कर देता है l पपीते के सेवन करने से यूरिन इन्फेक्शन जैसी समस्याओं का खतरा टल सकता है l

पपीते से होने वाले नुकसान(Side effects of papaya)


पपीते का अधिक सेवन करने से नुकसान का कारण बन सकता है l कोई भी फल या सब्जी या फिर कोई भी खाद्य पदार्थ सीमित मात्रा में ही उसका सेवन करना चाहिए चाहे वो कितना भी फायदेमंद है l जरूरत से ज्यादा किसी भी चीज का सेवन करने से नुकसान हो सकता है l

क्योंकि पपीते में फाइबर अधिक मात्रा में पाई जाती है l जिसके कारण पेट खराब हो सकता है प्रभावित हो सकती है l तथा पपीते का अधिक सेवन करने से शारीरिक परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है l


(1)पपीते का सेवन गर्भवती महिलाओं को नहीं करना चाहिए l
(2)पपीते का सेवन 1 साल से कम उम्र के बच्चे को नहीं करना चाहिए यह नुकसान कर सकता है l तथा बच्चे को लैट्रिन की समस्या हो सकती है l
(3)पपीते का अधिक सेवन करने से गुर्दे की पथरी का कारण बन सकता है l


(4)पपीते के अंदर मौजूद कुछ तत्व ऐसे होते हैं l जो सांस की बीमारियों का कारण बन सकता है l
(5)पपीते के अंदर फाइबर की मात्रा अधिक पाई जाती है जिसके कारण यह पेट खराब कर सकता है l तथा पेचिश की स्थिति में इसका सेवन बिल्कुल नहीं करना चाहिए इससे मर्ज बढ़ जाने की संभावना रहती है l
(6) पीलिया के रोगियों को पपीते का सेवन नहीं करना चाहिएl

पपीता पपीता खाने के बाद क्या नहीं खाना चाहिए l


(1)पपीता खाने के बाद दूध नहीं पीना चाहिए l इससे हाजमा खराब हो सकता है l
(2)पपीते के साथ करेली का सेवन जहर बन जाता है इसलिए पपीते और करेले का सेवन एक साथ नहीं करना चाहिए l
(4)कमजोर लिवर वालों को खाली पेट पपीता नहीं खाना चाहिए l
(5) जो लोग खून पतला होने की दवाई खा रहे हो तो उनको पपीते का सेवन नहीं करना चाहिए l
(6) पपीता खाली पेट नहीं खाना चाहिए खाली पेट पपीता खाने से पेट खराब हो जाता है तथा पेचिश जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है l

पपीते का सेवन कैसे करें(How to use papaya)


पपीते का सेवन अलग-अलग बीमारियों में अलग अलग तरीके से तथा स्वाद बढ़ाने के लिए भी अलग अलग ढंग से किया जाता है l

पपीते को काट कर ऐसे भी डायरेक्ट खाया जा सकता है l तथा पपीते का जूस बनाकर पिया जाता है l कच्चे पपीते की सब्जी बनाकर खाई जाती है l

इसके साथ फ्रूट सॉलि़ड सैलेड के साथ भी खाया जाता है l विभिन्न प्रकार के व्यंजनों में मीट में कच्चे पपीते को काट कर डाला जाता है l जाता है l तथा पपीते का हलवा बनाकर खा जाता है l


पपीता में पाए जाने वाले पोषक तत्व(Nutrients found in

papaya)
पपीता में फाइबर प्रचुर मात्रा में पाया जाता है l तथा पोटेशियम, विटामिन ए ,विटामिन सी, विटामिन बी विटामिन ई , बीटा कैरोटीन, पोटेशियम तथा लाइकोपीन जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं l

पपीता को विटामिन ए का खजाना कहा जाता है l इसके अलावा पपीते में अधिक मात्रा में पानी पाई जाती है l तथा पपीता में प्रोटीन होता है l तथा पपीते के अंदर मौजूद पोषक तत्व कैल्शियम कार्बोहाइड्रेट पदार्थ आयरन शर्करा फास्फोरस कैरोटीन और मिनरल्स भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं l

FAQ.

QUS.रोजाना पपीता खाने से क्या होता है?

Ans. कच्चा पपीता विटामिन सी से भरपूर होता है जो इसे त्वचा के स्वास्थ्य के लिए बेहतर बनाता है. यह मृत त्वचा कोशिकाओं को कम करने और पुराने की मरम्मत करने में भी मदद कर सकता है, इस तरह स्किन को अंदर से फिर से जीवंत करने में मदद करता हैl

Qus.पपीता कौन सी बीमारी में खाया जाता है?

Ans. रोज रोज पपीता खाने से कब्ज हार्ट अटैक ब्लड प्रेशर और इसके में लगती है बहुत रात में क्या है लेकिन ज्यादा मात्रा में कभी भी ना खाएं एक सीमित मात्रा यह जो ऊपर के artical मे आप पपीते से जुड़ी सारी जानकारियां प्राप्त कर सकते हैंl

Qus.पपीते के साथ क्या नहीं खाना चाहिए?

Ans. पपीते के साथ नींबू का सेवन नहीं करना चाहिए यह एक एलर्जी और घातक बीमारी का संकेत होता है l

Qus.क्या पपीते का जूस प्लेटलेट्स बढ़ाता है?

Ans. जी हां पपीता मात्र एक ऐसा फल है जो प्लेटलेट्स की मात्रा को बहुत तेजी से बढ़ाता हैl

Qus.papita khane ke fayde (पपीता खाने के फायदे) और नुकसान बताएं?

Ans. पपीता खाने के बहुत सारे वादे होते हैं जैसा के ऊपर के आर्टिकल में सब कुछ विस्तार से बताया गया हैl

Disclaimer

हमारे द्वारा लिखें गए सभी तथ्य, papita khane ke fayde (पपीता खाने के फायदे) विशेषज्ञों तथा डॉ से सलाह के आधार पर तैयार किए जाते हैं l

इस लेख को अन्य सूचना तथा मरीजों पर परखा गया है l तथा इसको तैयार करने में (Sehatbnao.com) ने सभी निर्देशों का पालन किया गया है l इसलिए इसको लिखने का मतलब लोगों में अन्य प्रकार की जानकारी व जागरूकता बढ़ाने के लिए तैयार किया जाता है l

तथा यह लेख किसी प्रकार का दावा नहीं करती l और ना ही किसी चीज का जिम्मेदार है l तथा अन्य प्रकार के किसी भी सूचनाओं के बारे में या फिर जानकारी प्राप्त करना है l या फिर अगर किसी को इसका उपयोग करना है तो अपनी सेहत के मुताबिक डॉक्टर से सलाह ले l